Bless Food Health Lifestyle

बच्चों की इम्यून सिस्टम मजबूत बनाने के लिए , डाइट में शामिल करें ये हेल्दी चीजें

healthy diet
Written by Rohit Sharma

स्वस्थ डाइट बच्चे की अंदरूनी सिस्टम को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आज हमने बच्चों में इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स साझा किए। उन्होंने 5 खाद्य पदार्थ साझा किए जिन्हें इस समय आपके बच्चे के आहार में शामिल करना आवश्यक है।

अपने बच्चों की डाइट में कम से कम एक मौसमी फल शामिल करने का प्रयास करें। यदि वे पूरे फल खाना पसंद नहीं करते हैं, तो उन्हें इन फलों का एक टुकड़ा भी दे सकते हैं। इससे उन्हें आंत के अच्छे बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा मिलेगा।

हर किसी के लिए शाम 4 बजे से शाम 6 बजे के बीच कुछ स्वस्थऔर पौष्टिक खाना बहुत जरूरी है। कुछ मीठा और सादा भोजन जैसे रोटी, घी और गुड़ का रोल या सूजी का हलवा या रागी के लड्डू देने से उन्हें ऊर्जावान रहने में मदद मिल सकती है।

बच्चे के खाने में चावल जरूर शामिल करें। इसे पचाना आसान है और यह स्वादिष्ट भी है। चावल कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण इसमें मौजूद एक खास तरह का अमीनो एसिड होता है। दाल, चावल और घी बच्चों के खाने का सबसे अच्छा विकल्प है।

बच्चों को रोजाना घर का बना अचार या चटनी या मुरब्बा दें। ये साइड डिश उनके पेट के बैक्टीरिया को पनपने में मदद करेंगे, उनकी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाएंगे और उन्हें खुश रहने में मदद करेंगे।

बच्चों को रोजाना एक मुट्ठी काजू खाने को दें। मुट्ठी भर काजू उन्हें सक्रिय और ऊर्जावान बनाए रखने के लिए आवश्यक सूक्ष्म पोषक तत्व प्रदान करेंगे। यह दर्द को कम करने में मदद करेगा।

नींद रोग प्रतिरोधक क्षमता और सेहत को बनाए रखने में अहम भूमिका निभाती है। यह मोटापे के जोखिम को कम करता है और अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों की लालसा को रोकने में मदद करता है। इसलिए बच्चे को भरपूर नींद लेने दें।

सभी प्रकार के प्रसंस्कृत या जंक फूड से बचें। ये खाद्य पदार्थ ट्रांस वसा से भरे होते हैं और इनमें न्यूनतम पोषक तत्व होते हैं। यहां तक कि डिब्बाबंद खाद्य पदार्थ जिन्हें स्वस्थ के रूप में लेबल किया जाता है, वे भी स्वस्थ नहीं हैं।

शारीरिक रूप से सक्रिय रहना जीवनशैली की एक और महत्वपूर्ण आदत है जो आपको फिट और सक्रिय रहने में मदद करती है। व्यायाम करने से मेटाबॉलिज्म को बढ़ावा मिलता है और पुरानी बीमारियों के विकास के जोखिम को कम करता है।

 

About the author

Rohit Sharma

Leave a Comment